अखिलेश का हमला: पीएम ने बेचा गुजरात मॉडल

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव विगत तीन दिनों से गुजरात में हैं। यहां विधान सभा के चुनावों में समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी मैदान में हैं। श्री यादव ने यहां राजकोट, द्वारिका, जामनगर आदि जनपदों में कई चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी लोकतंत्र, समाजवाद और सामाजिक सद््भाव के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के चुनावों में ‘गुजरात माडल‘ को तो खूब बेचा पर हकीकत यह है कि विकास के जितने कार्य उत्तर प्रदेश में हुए उतने दो दशक में भी गुजरात में शुरू नही हुए हैं। भाजपा सिर्फ लोगों को बहकाने और समाज को तोडऩे का काम करती हैं।
जामजोधपुर, लालपुर में एक बड़ी जनसभा को संबोधित करते हुए श्री अखिलेश यादव ने कहा कि गुजरात से उनका 5 हजार साल पुराना रिश्ता है। हम ब्रजभूमि से यहां द्वारिकाधीश जी का आशीर्वाद लेने आये हैं। अब यहां भी समाजवादी पार्टी का पौधा रोप दिया है। उन्होने कहा कि गुजरात के लोग भले और उद्यमी हंै। गुजरात की धरती के लाल गांधी जी और सरदार पटेल की आजादी की लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका थी। समाजवादी पार्टी उनके रास्ते पर चलने वाली पार्टी है जिसकी प्राथमिकता में गांव, किसान और गरीब हंै।अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा गुजरात में चुनाव जीतने के लिए अब उत्तर प्रदेश के नगरीय चुनाव परिणामों में जीत का झूठा प्रचार कर रही है जबकि उत्तर प्रदेश के निकाय चुनावों में भाजपा को ज्यादा स्थानों पर करारी हार मिली है। बैलट पेपर से हुए चुनावो में बड़ी संख्या में भाजपा प्रत्याशियों की जमानतें जब्त हुई हैं।
अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में आगरा-एक्सप्रेस वे समाजवादी सरकार ने दो साल के अन्दर 300 किलोमीटर बना दी, जिस पर लड़ाकू विमान भी उतारे जा चुके हैं। जबकि इस तरह का एक्सप्रेस वे पूरे गुजरात में नही हैं। समाजवादी पार्टी के सभी चुनावी वादे भी पूरे किए गए। भाजपा इनमें से एक भी काम की शुरूआत नहीं कर पाई है। उसने जो वादे किए थे वे भी पूरे नही हुए। श्री यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने काशी और गंगा को स्वच्छ-निर्मल बनाने का दावा किया था, वहां कुछ भी नहीं हुआ। श्री यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी का काम बोल रहा था तो प्रधानमंत्री जी ने लोगों को बहकाने के लिए श्मशान-कब्रिस्तान का राग छेड़ दिया गया। ईद-दिवाली की बिजली को झूठा मुद््दा बनाया गया जबकि उत्तर प्रदेश में बराबर बिजली आपूर्ति हो रही थी। अखिलेश यादव ने कहा कि उन्हे द्वारिका आने पर ही पता चला कि द्वारिकाधीश के मंदिर में ही तीन दिन से बिजली नहीं आ रही है। समाजवादी सरकार में मथुरा, काशी, अयोध्या, प्रयागराज, गोरखपुर सहित सभी धार्मिक स्थलो और महानगरों में 24 घण्टा विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित थी लेकिन अब उत्तर प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार है 10 घण्टा भी विद्युत आपूर्ति नहीं हो रही हैं। यही स्थिति गुजरात में देखने को मिली।

Leave a Comment