निकाय चुनाव: अंतिम चरण का मतदान खत्म, अब परिणाम

 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के नगर निकाय चुनाव का आखिरी चरण बुधवार को संपन्न हो गया. इसी के साथ 26 जिलों में 233 निकायों में महापौर, नगर पालिका अध्यक्ष और नगर पंचायत अध्यक्ष सहित 4, 299 वार्डों में पार्षद और सभासद प्रत्याशियों के भाग्य मतपेटियों में कैद हो गए. निकाय चुनाव में मतों की गणना 1 दिसंबर को सुबह 8 बजे से होगी और परिणाम भी उसी दिन घोषित किए जाएंगे.
उत्तर प्रदेश में हो रहे निकाय चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण के तहत प्रदेश के 26 जिलों में आज मतदान छिटपुट घटनाओं के साथ शांतिपूर्ण ढंग से सम्प्पन्न हो गया. इस बीच, कुछ जिलों में ईवीएम मशीनों में भी गड़बड़ी की शिकायतें आई, लेकिन उन्हें समय रहते दूर कर लिया गया। कई मतदान केंद्रों पर लोगों ने अपना नाम मतदाता सूची में नहीं होने की शिकायत की।
बरेली के वार्ड 54 में बड़ी लापरवाही सामने आई। यहां 1,250 मतदाताओं में करीब 600 लोगों के नाम वोटर लिस्ट में नहीं थे और जिन लोगों के नाम लिस्ट में हैं उनमें से कई या तो मर चुके हैं या वार्ड को छोड़कर किसी अन्य स्थान पर जाकर बस चुके हैं।
बरेली के वार्ड नंबर 66 में मतदाता सूची में गड़बड़ी होने पर मतदाताओं ने हंगामा कर दिया। मतदाताओं का आरोप था कि वोटर लिस्ट में उनकी जाति पटवा लिखी है, लेकिन पचीर् में देवल लिखकर आई है। बूथ अधिकारी ने 10-12 लोगों को वोट डालने से रोक दिया, जिसको लेकर विरोध हुआ। लोगों का आरोप है कि बीएलओ (बूथ लेवल ऑफिसर) ने पहले ही जांच नहीं की, जिस कारण गड़बड़ी हो रही है।
बाराबंकी में एक पोलिंग बूथ के पास दो सौ मीटर के अंदर मतदाताओं को पचीर् (मतदान पचीर्) बांटने के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज किया। हालांकि स्थिति को काबू में कर लिया गया।राज्य निवार्चन आयोग के अपर आयुक्त वेदप्रकाश वमार् के मुताबिक तीसरे चरण के लिए 364 जोनल मजिस्ट्रेट, 890 सेक्टर मजिस्ट्रेट और 233 रिटनिंर्ग अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।

Leave a Comment