प्रेसीडेंट कोविंद दो दिन यूपी में रहेंगे

 

लखनऊ। प्रेसीडेंट रामनाथ कोविंद कल से अपने दो दिवसीय उत्तर प्रदेश दौरे पर आयेंगे। पदभार ग्रहण करने के बाद अपने गृह राज्य के पहले दौरे पर कोविंद लखनऊ और कानपुर में कई कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति कल दोपहर लखनऊ पहुंचेंगे और अपराह्न चार बजे वह अम्बेडकर महासभा परिसर में श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद शाम को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में उनके सम्मान में आयोजित अभिनन्दन समारोह में शिरकत करेंगे। इसके बाद वह मुख्यमंत्री आवास में आयोजित रात्रिभोज में शरीक होंगे और राजभवन में रात्रिविश्राम करेंगे।
अगले दिन वह राजभवन में लोगों से मुलाकात करेंगे और फिर ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम में भाग लेने के लिये हेलीकाप्टर से कानपुर के ईश्वरीगंज गांव रवाना हो जाएंगे। हालांकि उनका कानपुर देहात जिले में स्थित अपने पैतृक गांव परौख जाने का कोई कार्यक्रम नहीं है।
कानपुर के जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह ने बताया कि राष्ट्रपति 15 सितम्बर को दोपहर ढाई बजे हेलीकाप्टर द्वारा कल्याणपुर के ईश्वरीगंज गांव पहुंचेंगे। यह गांव हाल में खुले में शौच से मुक्त घोषित हुआ है। इस गांव में वह ‘स्वच्छता ही सेवा’ कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे। कोविंद गांव को खुले में शौच से मुक्ति दिलाने में सक्रिय भूमिका निभाने वाले पांच लोगों को सम्मानित भी करेंगे। उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति सालिड लिक्विड वेस्ट मैनेजमेंट योजना की शुरूआत भी करेंगे तथा सफाई कर्मियों को कचरा ढोने वाली ट्राईसाइकिल भी वितरित करेंगे। राष्ट्रपति के इस कार्यक्रम में प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे। जिलाधिकारी ने एक सवाल पर बताया कि राष्ट्रपति का अपने पुश्तैनी गांव परौख जाने का कोई कार्यक्रम नहीं है। भारतीय जनता पार्टी के कानपुर नगर अध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी ने बताया कि राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद के पहले कानपुर आगमन पर शहर को पोस्टरो बैनरों और फूलों से सजाया जा रहा है। कार्यक्रम स्थल पर कई आकर्षक फूलों के द्वार लगाये जायेंगे। इसके साथ ही स्वागत की विशेष तैयारियां की जायेंगी। उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति ईश्वरीगंज में कार्यक्रम के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेता ईश्वर चंद्र गुप्ता के तिलक नगर स्थित आवास पर जाकर वहां जलपान करेंगे। भाजपा की शहर इकाई ने 87 पार्टी कार्यकर्ताओं की सूची राष्ट्रपति भवन भेजी है। अगर राष्ट्रपति भवन से अनुमति मिल जाती है तो सब कोविंद से मिलकर उन्हें उनके अपने शहर में विशेष रूप से सम्मानित करेंगे।

Leave a Comment