राहुल का करारा जवाब: धर्म का व्यापार नहीं करते

भावनगर। सोमनाथ मंदिर में गैर-हिंदू रजिस्टर में नाम दर्ज होने को लेकर उठे विवाद पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बीजेपी को करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा है कि वह धर्म जैसी निजी बातों का व्यापार नहीं करते।
गुजरात चुनाव से पहले राज्य में प्रचार कर रहे राहुल ने भावनगर में दादी इंदिरा और अपने परिवार को शिव भक्त बताया। उन्होंने कहा कि उन्हें अपने धर्म को लेकर किसी से सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि यह एक ऐसी चीज है जिसे वह निजी रखते हैं और इसका व्यापार नहीं करते। गुजरात में प्रचार के दौरान मंदिरों के दर्शन को निकले राहुल का नाम बुधवार को सोमनाथ मंदिर में गैर-हिंदू रजिस्टर में दर्ज पाया गया था। इसे लेकर बीजेपी ने राहुल पर खूब सवाल उठाए थे। बाद में कांग्रेस ने मामले में सफाई देते हुए कहा था कि राहुल का नाम रजिस्टर में बाद में जोड़ा गया। कांग्रेस ने बीजेपी पर मुद्दे को लेकर साजिश करने का आरोप भी लगाया था।

Leave a Comment