राहुल को अनन्य शिव भक्त बताने पर कांग्रेस आमादा

 

नयी दिल्ली। गुजरात के सोमनाथ मंदिर में राहुल के दर्शन के लिए जाने के दौरान उनका नाम एक रजिस्टर में ‘‘अहिन्दू’’ के रूप में कथित तौर पर दर्ज होने को लेकर छिड़े विवाद के बीच कांग्रेस ने आज कहा कि पार्टी उपाध्यक्ष ‘‘अनन्य शिवभक्त’’ हैं तथा वह सत्य के मार्ग में विश्वास करते हैं। पार्टी ने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा आम आदमी से जुड़े मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए इस तरह के षड्यंत्र कर रही है।
कांग्रेस प्रवक्ता दीपेन्द्र हुड्डा ने इस विवाद के बारे में प्रश्न किये जाने पर संवाददाताओं से कहा कि राहुल ने सोमनाथ मंदिर की आंगतुक पंजिका में स्वयं हस्ताक्षर किये हैं और इसे एक ‘‘ काफी प्रेरणादायक स्थल’’ लिखा है। उन्होंने दावा किया कि यह विवाद भाजपा द्वारा गुजरात के समक्ष पेश वास्तविक मुद्दों से ध्यान बंटाने की एक साजिश है ताकि चुनाव में ध्रुवीकरण किया जा सके।
हुड्डा ने कहा,‘‘ ये भाजपा के वैचारिक दिवालियापन को दर्शाता है।’’ उन्होंने कहा कि गुजरात का चुनाव 22 साल के भाजपा कुशासन की जवाबदेही के आधार पर लड़ा जा रहा है।उन्होंने कहा कि यह चुनाव साढ़े छह करोड़ गुजरातियों और भाजपा के बीच है। ‘‘एक तरफ षडयंत्र है, साजिश है, बाहुबल है, धनबल है और दूसरी तरफ जनबल है। गुजरात की जनता का जनबल कांग्रेस के साथ है।’’ हुड्डा ने कहा, ‘‘ सारा देश जानता है कि राहुल गाँधी जी एक अनन्य शिवभक्त हैं। राहुलजी शिवभक्त होने के कारण सत्य के मार्ग में विश्वास करते हैं औ सत्य हमारे साथ है।’’ कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल में भी कहा गया, ‘‘स्पष्टीकरण : सोमनाथ मंदिर में केवल एक आगंतुक पंजिका है जिस पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने हस्ताक्षर किये हैं। जारी की जा रही अन्य कोई भी तस्वीर हेरफेर कर बनायी गयी है। हताशा भरे समय में हताशा भरे उपायों की जरूरत पड़ती है।’’ हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार को गुजरात में लोगों की काफी नाराजगी झेलनी पड़ रही है क्योंकि यह सभी मोर्चों पर बुरी तरह विफल रही है।

Leave a Comment