शिवकली मौर्या बनी अमेठी की जिला पंचायत अध्यक्ष

अमेठी। जिला पंचायत चुनाव में सपा समर्थित शिवकली मौर्या को आज जिला पंचायत अध्यक्ष चुन लिया गया। किसी प्रत्याशी के मैदान में न होने की बदौलत चुनी गई है। अमेठी के डीएम जगतराज त्रिपाठी ने उनको जीत का प्रमाण पत्र दिया। शिवकली मौर्या के साथ गौरी गंज के सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह भी मौजूद रहे।

Read More

श्वेता सिंह का निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष बनना तय

फैजाबाद। नामांकन के दिन जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए बसपा का कोई प्रत्याशी सामने न आने पर सपा प्रत्याशी श्वेता सिंह का निर्विरोध जिला पंचायत अध्यक्ष बनना तय हो गया है। नामांकन के अन्तिम दिन एक मात्र प्रत्याशी श्वेता सिंह ने अपना पर्चा दाखिल किया। जिप अध्यक्ष पद के लिए श्वेता सिंह के मुकाबले कोई अन्य पर्चा दाखिल नहीं हुआ। माना जा रहा था कि बसपा समर्थित प्रत्याशी अपना पर्चा दाखिल करेगा परन्तु अन्तिम क्षण में बसपा का कोई प्रत्याशी चुनाव मैदान में नहीं आया। समाजवादी पार्टी खेमे में…

Read More

जिपं अध्यक्ष के लिए निर्विरोध चुनी गयी मीरा यादव

आजमगढ़। जिपं अध्यक्ष के लिए पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष मीरा यादव को दूसरे कार्यकाल के लिए निर्विरोध चुन लिया गया। वहीं बताते चले कि सपा ने आजमगढ़ से पूर्व जिपं अध्यक्ष को उम्मीदवार घोशित किया था जो कि षुक्रवार को पुन: निर्विरोध चुना गया। वहीं सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव की पुत्रवधू है। मीरा यादव का यह जिपं अध्यक्ष का दूसरा कार्यकाल होगा। पंचायत चुनाव के जिपं अध्यक्ष के लिए निर्विरोध चुने जाने से उनके समर्थकों व सपाईयों काफी हर्श का माहौल रहा। वहीं मीरा यादव ने बोला कि यह हमारे…

Read More

अप्रैल से मई के बीच हो सकता है बिहार में पंचायत चुनाव

पटना। पंचायती राज मंत्री कपिल देव कामत ने कहा है कि अधिनियम में निर्धारित आरक्षण फार्मूला के तहत ही पंचायत चुनाव होगा। एकल पदों पर मौजूदा आरक्षण की व्यवस्था जारी रहेगी। उनके साथ मौजूद विभाग के प्रधान सचिव सुधीर कुमार राकेश ने बताया कि अप्रैल से मई के बीच पंचायत चुनाव के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। फरवरी या मार्च में चुनाव की अधिसूचना जारी होगी। कामत ने बताया कि पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण तय करने की प्रक्रिया को शीघ्र मंजूरी दे दी जाएगी।

Read More

वोट न देने पर घरों में लगाई आग

निघासन-खीरी। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना ने जहॉ एक ओर सब कुछ साफ कर दिया है। वही दूसरी ओर हारे प्रधाना प्रत्याशी अब गांवों में चुनावी रंजिशन ग्रामीणों के घरों को आग लगा कर आपने मन की भड़ास निकाल रहे हैं। जहां जीते प्रत्याशी अपनी जीत की खुशी मना रहे हैं। तो वहीं हारे हुए प्रत्याशियों में मायूसी छाई हुई है। मायूस हतास प्रत्याशी, परिजन व उनके समर्थक अपनी पराजय को पचा नहीं पा रहे हैं। इसी के चलते अब गांवों में प्रधानी के चुनाव में वोट न देने को…

Read More