चीन पर भारत के तेवर सख्त : दिखाई गलवान मॉडल की झलक

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख में नौ महीने के लंबे समय तक आमने-सामने रहने की स्थिति के बाद बुधवार से भारतीय सेना और चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवान बख्तरबंद वाहनों के साथ पैंगोंग सो लेक के उत्तरी और दक्षिणी किनारे से वापस होने लगे। इसके पीछे की वजह वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर शांति स्थापित करने की ओर एक और कदम बढ़ाना है। इस बाबत देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में गुरुवार को बताया कि पैंगोंग लेक क्षेत्र में चीन के साथ सेनाओं को पीछे…

Read More

चमोली : नदी में पानी बढऩे से रोका गया बचाव कार्य

देहरादून। चमोली में गुरुवार को एक बार फिर उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब ऋषिगंगा नदी में अचानक जल स्तर तेजी से बढ़ा गया और इस वजह से राहत और बचाव काम को रोकना पड़ गया। तपोवन टनल से मलबा निकालकर मजदूरों की तलाश में जुटी टीम को आनन-फानन निकालना पड़ा। उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने कहा, ”चमोली जिले में बचाव कार्य को अस्थायी तौर पर रोका गया है। ऋषिगंगा नदी में पानी का बहाव बढ़ गया है।”7 फरवरी को ग्लेशियर टूटने के बाद आई बाढ़ में कई लोगों…

Read More

गुलाम नबी आजाद अब लेंगे सन्यास

नई दिल्ली। राज्यसभा से रिटायर हुए कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने बुधवार को कहा कि लोग अब उन्हें कई जगहों पर देख पाएंगे, क्योंकि वह अब फ्री हो चुके हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अब न तो उनकी सांसद या मंत्री बनने की इच्छा है और न ही अब वह पार्टी में कोई पद लेना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वह एक राजनेता के तौर पर अपने काम से संतुष्ट हैं और जब तक जिंदा रहेंगे, जनता की सेवा करते रहेंगे। समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत में गुलाम…

Read More

दीप सिद्धू ने बताई छिपने की अजीबो-गरीब वजहें

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस पर लाल किले में हुई हिंसा को लेकर गिरफ्तार किए गए अभिनेता-कार्यकर्ता दीप सिद्धू ने पुलिस को बताया है कि आखिर वह इतने दिनों तक क्यों छुपा था। लाल किला हिंसा मामले में गिरफ्तार किए गए पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू ने पुलिस को बताया है कि वह इसलिए छिप रहा था क्योंकि उसकी जान जोखिम में थी और उसे डर था कि उसे मार दिया जाएगा, क्योंकि किसान नेताओं ने हिंसा का सारा दोष उसी पर मढ़ा है। इस मामले से जुड़े पुलिस अधिकारियों ने बुधवार…

Read More

18 फरवरी को देशभर में रेल रोकेंगे किसान

नई दिल्ली। केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों को लेकर गतिरोध अब भी बरकरार है। कानूनों को रद्द कराने पर अड़े किसान इस मुद्दे पर सरकार के साथ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर चुके हैं। इसके लिए दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का आंदोलन आज 77वें दिन भी जारी है। नए कृषि कानूनों के खिलाफ अपने आंदोलन को तेज करते हुए प्रदर्शनकारी किसान यूनियनों ने 18 फरवरी को चार घंटे के राष्ट्रव्यापी ‘रेल रोको’ अभियान की घोषणा की है। संयुक्त किसान मोर्चा के नेता डॉ. दर्शन पाल ने बुधवार…

Read More