छत्तीसगढ़ में कांग्रेस लायी अविश्वास प्रस्ताव

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में राज्य के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने राज्य सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है और 168 बिंदुओं पर आरोप लगाया है। सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा जारी है।
विधानसभा में आज शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन कांग्रेस द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा शुरू की गई। अपने अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस ने राज्य में कई घोटाले होने का आरोप लगाया। कांग्रेस के सदस्यों धनेंद्र साहू, सत्यनारायण शर्मा और अरूण वोरा समेत अन्य विधायकों ने कहा कि राज्य में सरकार बेरोजगारों के साथ छल कर रही है तथा फर्जी जाति प्रमाणपत्र धारी व्यक्तियों को सरकार का संरक्षण प्राप्त है।कांग्रेस के सदस्यों ने कहा कि राज्य में अघोषित वित्तीय संकंट है तथा लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला किया जा रहा है। राज्य सरकार ने जनता का विश्वास खो दिया है। राज्य में प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के क्रियान्वयन में लापरवाही की जा रही है। राज्य में महिलाएं असुरक्षित हैं और बस्तर में रक्षक ही भक्षक बन रहे हैं।सदस्यों ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने चुनाव से पहले जो भी वादा किया था वह पूरा नहीं किया। किसानों की हालत खराब है। किसानों को फसल बीमा का लाभ भी नहीं मिल पा रहा है। किसानों से उत्पादित धान का खरीदने का वादा किया गया था लेकिन अब 15 क्वींटल धान खरीदी की जा रही है। इन शर्तों के कारण किसान परेशान हैं।

कांग्रेस के सदस्यों ने कहा कि सरकार सभी मामले में असफल साबित हो रही है इसीलिए यह अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। कांग्रेस के आरोप के जवाब में राज्य सरकार के राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय, कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा समेत अन्य सत्ता पक्ष के सदस्यों ने विपक्ष द्वारा लाए गए अविश्वास प्रस्ताव को कमजोर कहा।सत्तापक्ष के सदस्यों ने कहा कि विपक्ष ने राज्य सरकार पर कई आरोप लगाए हैं। लेकिन यह सभी आरोप सत्य से परे हैं। राज्य में भाजपा के 14 वर्ष के शासन में कई योजनाएं लागू की गईं और उसका सफल क्रियान्वयन किया गया। यही कारण है कि लगातार राज्य की जनता भाजपा पर विश्वास जता रही है।सदस्यों ने कहा कि बीते 14 वर्ष में राज्य ने लगातार प्रगति की है। यहां सडक़ों का विकास हुआ है तथा नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भी लगातार विकास के कार्य हो रहे हैं।राज्य के राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने अविश्वास प्रस्ताव पर कहा कि राज्य में लगातार विकास के काम हुए, विपक्ष का यह आरोप कल्पना से परे है।सदन में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा जारी है तथा वक्ताओं की सूची के मुताबिक लगभग 50 सदस्य अभी इस चर्चा में भाग लेंगे।

Leave a Comment