पीएम मोदी की मन की बात: नये साल में नयी बात

नई दिल्ली। पीएम नरेन्द्र मोदी ने साल के आखिरी रविवार को 39वीं मन की बात की। शुरुआत में सभी को नए साल की शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि नए साल में नई बात करेंगे. हमारे देश में निष्काम कर्म की बात होती है. सेवा परमो धर्म की हमारी परंपरा रही है. क्रिसमस हमें सेवा का संदेश देता है। उन्होंने कहा कि गुरु गोविंद सिंह ने भी महान शिक्षाएं दी हैं. उन्होंने लोगों को जाति और धर्म को तोडऩे की शिक्षा दी. जीवन के हर में पल में त्याग और कर्म का संदेश दिया है. मेरे लिए सौभाग्य की बात रही है मैंने पटना साहिब में उनके 350 वें प्रकाश वर्ष में हिस्सा लिया है। जनवरी का दिन विशेष है. जो लोग 21 में जन्म हैं. वह लोग वोटर बन जाएंगे. भारतीय लोकतंत्र 21 वीं सदी के वोटरों का स्वागत करता है।
मोदी बोले यह इंडिया यूथ आग और नए तय करे कि कैसा हो यह भारत. आप भी आगे बढ़ें और देश आगे बढ़े. हम चिंतन करें कि कैसे हम उस भारत का निर्माण करें जिसका सपना महापुरुषों ने देखा है. समय की मांग है कि हम सशक्त और दिव्य भारत के लिए जनांदोलन की शुरुआत करें. हम चाहते हैं दिल्ली में एक मॉक पर्लियामेट का आयोजन हो जिसमें हर जिले का युवक हो. युवा नए भारत के निर्माण के लिए मंंथन करें और नए रास्ते खोजें।

Leave a Comment