बैटिल ऑफ गुजरात: पहले चरण का शोर आज जायेगा थम

अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए प्रचार का गुरुवार को आखिरी दिन है. पहले चरण के लिए मतदान 9 दिसंबर को होगा. प्रधानमंत्री मोदी के लिए ये चुनाव प्रतिष्ठा का है. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालने जा रहे राहुल गांधी के लिए ये चुनाव लिटमिस टेस्ट है. पहले चरण में 89 सीटों पर 977 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. इनमें मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी शामिल हैं।
राजनीतिक पंडितों के मुताबिक, जो पार्टी सौराष्ट्र और कच्छ में ज्यादा सीटें हासिल करेगी, उसी के गुजरात में सरकार बनाने के ज्यादा चांस होंगे. 2012 के चुनाव में सौराष्ट्र और कच्छ की 58 सीटों में से बीजेपी ने 35 सीटें जीती थीं. वहीं कांग्रेस ने 20 सीटें जीती थीं. वहीं 2007 में सौराष्ट्र और कच्छ में बीजेपी को 43 और कांग्रेस को 14 सीटें मिली थीं. दूसरे और अंतिम चरण का चुनाव 14 दिसंबर को होगा. वोटों की गिनती 18 दिसंबर को होगी. गुजरात में एक ओर आज पहले दौर का चुनाव प्रचार थमने जा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ वोटरों को लुभाने की कोशिश जारी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को गुजरात बीजेपी के एससी-एसटी मोर्चा के कार्यकर्ताओं से ऑडियो संवाद करेंगे, जिसे इसी कोशिश के तौर पर देखा जा रहा है. इसके साथ ही गुजरात के तटीय इलाकों के बीजेपी कार्यकर्ताओं से भी पीएम मोदी ऑडियो संवाद करेंगे. प्रधानमंत्री ओखी तूफान को लेकर इन लोगों की चिंताओं को सुनेंगे. प्रधानमंत्री ने खुद ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। करीब 10,000 कार्यकर्ताओं को एक साथ पीएम मोदी का फोन जाएगा और ऑडियो ब्रिज तकनीक के जरिए एक साथ सभी से संवाद करेंगे. पीएम मोदी दिल्ली में अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का भी उद्घाटन करेंगे. पीएम के मुताबिक, इसके जरिए युवाओं को शोध करने में मदद मिलेगी. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले दौर के मतदान के लिए गुरुवार को सूरत में एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे.

Leave a Comment