मोदी और बाजपेयी का डीएनए है एक

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से तुलना करते हुए केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन ने आज कहा कि दोनों का समान डीनएन है और दोनों की ही वैज्ञानिक अनुसंधान में रूचि है।
हर्षवर्धन ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन की क्षेत्रीय पोजशनिंग प्रणाली ‘नेविक’ के भारतीय परमाणु घडिय़ों से तालमेल की घोषणा के अवसर पर यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी वैज्ञानिक समुदाय की सामाजिक दायित्वों को लेकर काफी रूचि रखते हैं।उन्होंने कहा, ‘‘मैं एक और महान प्रधानमंत्री को याद कर रहा हूं जिनका डीएनए वर्तमान प्रधानमंत्री के समान है। हम सभी अपने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से प्रेम एवं स्नेह करते हैं।’’ हर्षवर्धन ने कहा कि वाजपेयी केवल कवि ही नहीं बल्कि दिल से वैज्ञानिक एवं प्रौद्योगिकीविद् थे।उन्होंने कहा, ‘‘वह ऐसे प्रधानमंत्री थे जिन्होंने पहले से ही मौजूद ‘जय जवान-जय किसान’ में एक नया आयाम जोड़ा ‘जय विज्ञान’।’’ उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने प्रधानमंत्री बनने के महज दो माह बाद भारत को परमाणु क्षमता वाले राष्ट्रों के समूह में खड़ा कर दिया।केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री से कई अच्छी चीजें विरासत में हासिल की हैं।उन्होंने कहा, ‘‘वह (मोदी) वैज्ञानिकों से यह अपील करते रहते हैं कि आप अपनी पत्रिकाओं में जो भी अध्ययन पत्र प्रकाशित करें, उन सभी का आम आदमी के जीवन को बदलने में प्रभाव पडऩा चाहिए।’’ हर्षवर्धन ने कहा कि नेविक का भारतीय परमाणु घडिय़ों से तालमेल एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम है। उन्होंने कहा कि इससे हमारे देश को आगे ले जाने में काफी मदद मिलेगी।

Leave a Comment