रघुवर उवाच: युवा हैं भारत का भविष्य

रांची। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज यहां कहा कि युवा ही भारत का भविष्य हैं।मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज यहां एक कार्यक्रम में युवाओं को संबोधित करते हुए यह बात कही।उन्होंने कहा कि युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि उनके कौशल क्षमता का विकास हो। देश के इतिहास में पहली बार युवाओं की कौशल क्षमता में विकास के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विशेष पहल कर अलग मंत्रालय बनाया और सुनियोजित प्रयास किया है। उनकी राज्य सरकार ने भी उसी अनुरूप कौशल विकास पर विशेष ध्यान दिया है। झारखंड सरकार भी युवाओं का कौशल विकास करके रोजगार उपलब्ध कराने के अभियान को आगे बढ़ा रही है।उन्होंने कहा कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फाउंड्री एंड फोर्ज टेक्नोलॉजी (निफ्ट) जैसा प्रतिष्ठित संस्थान झारखंड के लिए गर्व की बात है। निफ्ट की मानव संसाधन शक्ति पर झारखंड को नाज है। निफ्ट संस्थान के 50 गौरवशाली वर्ष पूरे करने पर मुख्यमंत्री ने बधाई दी।विकसित देशों में जहां 80 प्रतिशत युवा कौशल क्षमता से युक्त हैं, वहीं हमारे देश में सिर्फ दस प्रतिषत छात्र कौशल क्षमता से युक्त हैं। जबकि देश की 60 प्रतिशत आबादी युवा है। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद का सपना था कि भारत विश्व गुरु बने।राज्य सरकार विवेकानंद की जयंती के अवसर ( राष्ट्रीय युवा दिवस) पर 25,000 युवाओं को सीधे रोजगार दे रही है। इनमें ऐसे भी युवा हैं जिन्होंने भले ही उच्च शिक्षा प्राप्त नहीं की है, किंतु उनका कौशल विकास कर उन्हें रोजगार दिया जा रहा है।मुख्यमंत्री ने कहा कि इस कार्यशाला में इस बात पर ध्यान दिया जाना चाहिए, कि हमारे देश के मैन्युफैक्चरिंग संस्थान जो उत्पाद बनाते हैं उनकी गुणवत्ता सर्वश्रेष्ठ हो, जीरो डिफेक्ट हो ताकि उनके प्रोडक्ट दुनिया भर में छा सकें। मुख्यमंत्री ने कहा की उत्पाद की पैकेजिंग भी बहुत महत्वपूर्ण है, अगर प्रोडक्ट बढिय़ा हो और उसकी पैकेजिंग भी अच्छी हो तो पूरा विश्व उसके लिए बाजार बन सकता है।

Leave a Comment